ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है – Operating System in Hindi ?

ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System Kya Hai)

Operating System Kya Hai जिस प्रकार मनुष्य को सोचने तथा कार्य करने के लिए दिमाग की जरूरत होती है उसी प्रकार Computer को भी कार्य करने के लिए Hardware  तथा Software की आवश्यकता होती है। Operating System तथा System Software  का एक महत्त्वपूर्ण प्रकार होता है। इसके बिना Computer
से कार्य लेने के बारे मै सोच भी नहीं सकते  है। यह Cpu  से मिलने वाले Signals को, Computer के विभिन्न जगह पहुंचने तथा  दृष्टि से उन्हें कंट्रोल करता है। जब हम अपने Computer का On करते हैं तो यह Program Computer Hardware तथा Software या मेमोरी में संगृहीत हो जाता है।

Operating System in Hindi


Operating System Kya Hai Computer तथा User के साथ मेल झोल बढ़ाने का कार्य करता है, जिसे इन्टरफेस (Interface) कहा जाता है। Operating System का मुख्य कार्य User (User) से निर्देश (Instruction) प्राप्त कर, उनका पालन हार्डवेयर (Hardware) से कराना है।

यह अन्य Programs  में भी सहायता करता है। इसके द्वारा ही Computer के संसाधन जैसे Cpu, Memory ,Hard Disk  इत्यादि को एक से अधिक User  या एक से अधिक Programs के मध्य बाँटने का कार्य प्रदान करता हैं।

ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता (Need Of Operating System)

  1.  यह Computer तथा User के बीच मै सम्बन्ध स्थापित करने का कार्य करता है।
  2. Computer को On  किये जाने पर यह अपने आप ही मेमोरी में लोड हो जाता है तथा आवश्यक कार्यों की पूर्ति करता है।
  3. यह User द्वारा दिये गये Command को लोड करके उनकी जरूरत के अनुसार उन्हें Computer के संसाधन प्रदान करत है।
  4. यह Input तथा Output  की समस्त क्रियाओं पर कण्ट्रोल रखता है।।


 ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार (Types Of Operating System)

रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम : (Real Time Operating System)

इसका उद्देश्य User को तीव्र Response टाइम उपलब्ध कराना है। इसमें User का हस्तक्षेप कम होता है व साथ ही यदि कोई Program एक निश्चित अवधि में पूर्ण नहीं हो पाता तो आगे के Program  में त्रुटि आ जाएगी व परिणाम रुक जाएगा। उदाहरण-Lynx, Mtos आदि।

सिंगल User ऑपरेटिंग सिस्टम :(Single-User Operating System)

इसके अन्तर्गत एक समय में एक ही User प्रभावी रूप से कार्य कर सकता है। उदाहरण-Dos,  विण्डोज Xp आदि।

टाइम-शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम:(Time-Sharing Operating System)

इस ऑपरेटिंग सिस्टम के अन्तर्गत कई User एक संसाधन को बारी-बारी से एक निश्चित समयावधि के लिए प्रयोग कर सकते हैं। इस Operating System में Memory प्रबन्धन अति आवश्यक है। या मल्टी-टॉस्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम। उदाहरण-यूनिक्स, विण्डोज 2000

बैच प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम :(Batch Processing Operating System)

इसमें एक जैसे कार्यों को एक समूह में संकलित कर लेते हैं जिन्हें बैच (Batch) कहा जाता है व  User के हस्तक्षेप के बिना प्राथमिकता के आधार पर क्रियान्वयन बैच में होता है।

मल्टी-प्रोग्रामिंग ऑपरेटिंग सिस्टम: (Multi Programming Operating System)

इसमें एक से अधिक Operating System या कार्य को Cpu द्वारा दिए गए निश्चित समय पर एक साथ क्रिर्यान्वित किया जा सकता है। इस निश्चित समय को टाइम स्लाइस कहा जाता है।

मल्टी-प्रोसेसिंग ऑपरेटिंग सिस्टम :(Multi Processing Operating System)

इस System में दो या अधिक Central Processing Unit का प्रयोग किया जाता है। उदाहरण-लाइनक्स, यूनिक्स आदि।

मल्टी-थ्रेडिंग ऑपरेटिंग सिस्टम :(Multi Threading Operating System)

इस Operating System में एक बार में एक से अधिक जॉब्स के ऐक्जीक्यूशन को सपोर्ट किया जा  सकता है। उदाहरण-विण्डोज 2000, लाइनक्स आदि।

सिंगल User मल्टी टास्किंग ऑपरेटिंग :(Single-User Multitasking Operating System)

इस ऑपरेटिंग सिस्टम की सहायता से User एक बार में कई Program Run कर सकता है। सिस्टम उदाहरण-एप्पल का मैकिन्टोश माइक्रोसॉफ्ट विण्डोज आदि।

मल्टीuser मल्टी टास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम :(Multi-User Multitasking Operating System)

इस Operating System में कई User Computer पर काम कर सकते हैं। Operating System में नेटवर्क सिस्टम का प्रयोग किया जाता है। उदाहरण-विण्डोज एनटी, यूनिक्स आदि।

ऑपरेटिंग सिस्टम के कार्य
Commonly Used Operating System


(1) Ms-Dos
(2) Windows
(3) Unix.
(4) Linux
(5) Windows-Nt

(1) Ms-Dos (Microsoft-Disk Operating System) - इसका विकास माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी द्वारा 1981 में किया गया, इसलिये इसे Ms-Dos कहते हैं। इसी के Ibm संस्करण को Pc-Dos कहा जाता है। Ms-Dos कार्यक्रमों का ऐसा समूह है जो डिस्क परिचालन का प्रबन्ध करता है। इसके द्वारा की बोर्ड की सहायता से उपयोगकर्ताText-Oriented Interface कर सकता है। इसे Command Driven Interface भी कहते हैं। इसके अन्तर्गत फाइल्स के नाम 11 करेक्टर्स से लम्बे नहीं हो सकते हैं। इसमें Gui (Graphical User Interface) की सुविधा नहीं होती है।
Ibm एवं माइक्रोसॉफ्ट द्वारा 1987 में Os/2 (Operating System/2) का विकास किया गया। इसके अन्तर्गत एक साथ कई प्रोग्राम चलाये जा सकते हैं। इससे Ms-Dos के Commands के अतिरिक्त कुछ नये Commands भी जोड़े गये हैं।

(2) Windows - इसका विकास भी माइक्रोसॉफ्ट द्वारा किया गया। यह Gui (Graphical User Interface) की सुविधा प्रदान करता है जिसमें उपयोगकर्ता की-बोर्ड का उपयोग किये बिना माउस की सहायता से Computer पर कार्य कर सकता है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम ने Computer के उपयोग को आसान कर दिया है। विण्डोज ऑपरेटिंग सिस्टम Dos के आधार पर ही कार्य करता है। Windows-95, Windows-98, Windows-2000, Windows-Xp इसके भिन्न संस्करण हैं।

(3) Unix- इसका विकास अमेरिकन टेलीकम्यूनिकेशन कम्पनी ‘एटी एण्ड टी' (At & T) द्वारा किया गया। इसका कोड 'C' भाषा में तैयार किया गया है। इसके माध्यम से कार्यक्रम काफी आसानी से तैयार किये जा सकते हैं। इसके द्वारा 'मल्टी टास्किंग' एवं नेटवर्किंग' सम्भव है। यह 32-बिट मशीन के लिए अधिक उपयोगी है क्योंकि 16-बिट प्रोग्राम की इसमें अधिक लागत आती है। इसके कमाण्ड्स थोड़े जटिल होते हैं। वर्तमान में Unix पर आधारित काफी सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं।

(4) Linux - यह भी Unix का ही संस्करण है। यह मल्टी टास्किंग एवं मल्टी-User ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसक विकास कई प्रोग्रामर्स ने मिलकर किया है। इसका सर्वप्रथम उपयोग Linus Torvalds द्वारा किया गया। इसमें Unix के सभ Commands का उपयोग होता है।

(5) Windows-Nt - इसका विकास भी माइक्रोसॉफ्ट द्वारा किया गया। इसका उपयोग नेटवर्क कम्प्यूटिंग में होता है। यह किसी भी प्रोसेसर पर कार्य कर सकता है। यह एक 32-बिट मल्टी-User ऑपरेटिंग सिस्टम है। यह Tcp/Ip प्रोटोकॉल के अनुसार कार्य करता है।

तो अब आप जान गए होंगे कि Operating System Kya Hai क्या होता है इसको हमने बहुत ही सरल भाषा में आपको समझाया है जिससे आपको अच्छे से समझ में आ जाये. यदि आपको जानकारी पसंद आयी तो इसे अपने दोस्तों के साथ Whatsapp, या Facebook  पर शेयर जरुर करे.



ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है – Operating System in Hindi ? ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है – Operating System in Hindi ? Reviewed by motivational quotes hindi on November 02, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.